Siwan News जिला ताज़ा ख़बरें बड़ी खबर

शव को नहीं होगा फजीहत सर सैयद फाउंडेशन आया आगे

परवेज अख्तर, सिवान:- दुर्घटना में हुई मौत या लावारिस शव को अब फजीहत नहीं होना पड़ेगा। इसके लिए शहर के सर सैयद फाउंडेशन ने पुलिस अधीक्षक से मिल एक अच्छी योजना की शुरुआत की है। बीते दिनों शहर में हुए लास की फजीहत के बाद सर सैयद फाउंडेशन के अध्यक्ष डॉ अमजद खान ने एसपी नवीनचंद्र झा से मिल एक ऑफर दिया। उन्होंने उत्तर प्रदेश के एक कंपनी द्वारा निर्मित नो प्रॉफिट नो लॉस की बैग की जिक्र की। बैग का खासियत है कि वह शव को पूरी तरह से सुरक्षित रखेगा एवं आम नागरिक को शव से घृणित नही होना पड़ेगा। इसको लेकर बुधवार को सर सैयद फाउंडेशन के अध्यक्ष एवं सदस्यों ने पुलिस कप्तान को लाश को सुरक्षित पोस्टमार्टम हाउस पहुंचाने के लिए बैग गिफ्ट किया। बैग में एप्रॉन, दो ग्लब्स, वाटर प्रूफ बैग जो जीप सिस्टम है। इसमें लाश को रखकर बंद कर दो लोग बगैर किसी स्ट्रैचर या वाहन के पोस्टमार्टम हाउस या सदर अस्पताल ले जा सकता हैं। बैग में एक स्थान यह भी है कि मृतक के पास से बरामद सामान को उसी बैंग में पहचान के लिए रखा जा सकता है। इसके लिए संस्था ने बुधवार को पुलिस कप्तान को 50 बैग गिफ्ट किया। वही संस्था द्वारा एक कीट और दिया गया जो सड़कों पर हुई घटना को देखने या क्राइम सीन देखने के लिए लोगों का भीड़ उमड़ पड़ता है और कभी-कभी भीड़ घटना स्थल या शव को छू देती है इसके लिए संस्था ने क्राइम सीन प्रिजर्वेशन कीट दिया। जिसमें चार पीलर और क्राइम सीन पट्टा वाटर प्रूफ लगा रहेगा। जिससे घटना के इलाका को कवर कर दिया जाएगा जिसमे पुलिस के अलावा कोई नही जा सकता है। इसके अलावा डीएनए कीट और फिंगर प्रिंट लेने के लिए सामग्री होगी। साथ में अल्ट्रावायलेट लाइट भी होगी। सामाग्री देने के लिए उत्तर प्रदेश से पहुंचे राजेश शुक्ला ने सर सैयद फाउंडेशन के सहयोग से एसपी को सौंपा। एसपी ने बताया कि यह अच्छी पहल है इससे शव को कैरी कर हॉस्पिटल या पोस्टमार्टम हाउस तक ले जाने के लिए उपयोग किया जाएगा। उन्होंने बताया कि सभी थानों में इस बैग और किट को दिया जाएगा। उन्होंने बताया कि बैग पुलिस सेफ्टी के लिए भी अच्छा है तथा सार्वजनिक रूप से शव का प्रदर्शन ना हो इसके लिए भी अच्छा है। मौके पर एएसपी कांतेश कुमार मिश्रा समेत संस्था के अन्य सदस्य थे।