Siwan News ताज़ा ख़बरें

दरोगा भर्ती परीक्षा में करेंट अफेयर्स का प्रश्न सबको चौकाया

तीन हजार 868 अभ्यर्थी रहे अनुपस्थित, कही कोई निष्कासन नही

केंद्रों पर हुई सघन जांच, घड़ी तक नही ले जाने की थी अनुमति

परवेज अख्तर, सिवान :- बिहार दारोगा भर्ती परीक्षा रविवार को शांतिपूर्ण माहौल में संपन्न हो गया। दारोगा भर्ती परीक्षा के लिए जिला में 29 केन्द्र बनाए गए थे। सभी के केंद्रों पर परीक्षा पर प्रशासन की खास नजर बनी हुई थी। बिहार पुलिस अवर सेवा आयोग परीक्षा को लेकर खास सतर्क रहा। परीक्षा से लेकर परीक्षा के बाद तक उत्तर वायरल करने वालों पर विशेष नजर रखे गए थे। बता दे कि परीक्षा को लेकर अभ्यर्थी सुबह सात बजे से ही परीक्षा केंद्रों पर उमड़ने लगे थे। दूर-दराज से आने वाले अभ्यर्थी समय पर परीक्षा केंद्रों पर पहुंच गए थे।

परीक्षा में शामिल अभ्यर्थियों ने बताया कि पेपर सामान्य पूछे गए थे

दौड़ती रही अधिकारियों की गाड़ियां, तैनात रहे दंडाधिकारी एवं पुलिस पदाधिकारी

जिला में परीक्षा के लिए 29 केंद्र बनाया गया था जहां कुल 14 हजार 496 अभ्यर्थी आवंटित थे जिसमे से 10 हजार 628 अभ्यर्थी परीक्षा ने शामिल हुए तथा तीन हजार 868 अनुपस्थित रहे। परीक्षा के लिए अभ्यर्थियों का रिपोर्टिंग समय सुबह साढ़े आठ बजे का था। सभी अभ्यर्थी समय से परीक्षा केंद्रों पर पहुंच गए थे। परीक्षा केंद्रों पर अभ्यर्थियों की सघन जांच की गई। पुरुष अभ्यर्थी के लिए अलग एवं महिला अभ्यर्थी को अलग जांचा जा रहा था। बता दे कि परीक्षा के दौरान जांच में अभ्यर्थियों को घड़ी तक ले जाने की अनुमति नही थी। सभी अभ्यर्थी साथ मे मोबाइल ले कर आये थे। कुछ देर के लिए केंद्राधीक्षक उन्हें परेशान किए की नियमावली में साफ-साफ संदेश के बावजूद मोबाइल लाना दंड है। लेकिन अभ्यर्थियों की परेशानी को देख केंद्राधीक्षक ने उसे कागज में पैक करा नाम लिख ऑफिस में जमा करवाया फिर परीक्षा में जाने की अनुमति दिया। बता दे कि परीक्षा एक पाली में संपन्न हुई जिसकी अवधि कुल दो घंटे की थी।

दो घंटे के दारोगा भर्ती के लिखित परीक्षा में कुल 100 प्रश्न पूछे गए थे जो 200 अंक का था। परीक्षा में शामिल अभ्यर्थी ने बताया कि किसी को उम्मीद नही थी कि परीक्षा में करेंट अफेयर्स के इतना सवाल पूछा जाएगा। सभी ने करेंट अफेयर्स का 15 सवाल देख चकित रह गए। वही परीक्षा में शामिल अभ्यर्थी डायट केंद्र पर अमित कुमार, शुभम कुमार, मोहिनी कुमारी, डीएवी पीजी कॉलेज में धीरज कुमार शर्मा, विनय कुमर, कुणाल कुमार, गुड़िया कुमारी, महावीरी सरस्वती शिशु मंदिर में रोहित कुमार गुप्ता, विशाल कुमार ने बताया कि प्रश्न सामान्य पूछा गया था।

जो भी अभ्यर्थी तैयार किए है या करते है उनके लिए पूछे गए सवाल बिल्कुल आसान थे। इन्होंने बताया कि परीक्षा में इतिहास, विज्ञान, राजनीति शास्त्र, बैंकिंग, महत्वपूर्ण दिवस, महत्वपूर्ण किताब के लेखक के नाम से संबंधित प्रश्न पूछा गया था। अभ्यर्थियों ने बताया कि लिखित परीक्षा में सफल होने के बाद मेंस की परीक्षा ली जायेगी। इसके बाद चुने हुए अभ्यर्थियों की शारीरिक दक्षता परीक्षा ली जायेगी। अंत में मेडिकल टेस्ट होगा। वही अभ्यर्थियों ने बताया कि जितना सवाल का जबाब आ रहा था उतना का ही जबाब दिए है। क्योंकि प्रत्येक गलत उत्तर के लिए 0.2 मार्क्स काटे जाएंगे। यानि पांच सवाल का गलत जबाब देने पर एक नंबर कट जाएगा। परीक्षा को लेकर जिला के वरीय अधिकारी पूरी तैयारी कर लिए थे। सभी केंद्रों पर सीसी कैमरा एवं सभी केंद्रों पर अलग से वीडियोग्राफी भी कराई जा रही थी। सभी केंद्रों पर भारी संख्या में पुलिस बल के साथ स्टेटिक मजिस्ट्रेट एवं पुलिस पदाधिकारी की भी तैनाती की गई थी। इसके अलावा जिला के सभी केंद्रों पर उड़नदस्ता एवं जोनल सह गश्त दल भी विशेष नजर रखी हुई थी। वही परीक्षा की पल-पल की जानकारी जिला नियंत्रण कक्ष से लिया जा रहा था। परीक्षा में किसी भी केंद्र से ना ही निष्कासन एवं ना ही मुन्ना भाई की पकड़े जाने की सूचना मिली। वही परीक्षा के दौरान एएसपी कार्तिकेय शर्मा एवं एसडीओ अमन समीर भी केंद्रों का जायजा लिए।