Siwan News ताज़ा ख़बरें

महाराणा प्रताप की जयंती को राष्ट्रीय स्वाभिमान दिवस घोषित करें केंद्र सरकार

रवेज खतर/सिवान : 9 मई को पूरे देश और दुनिया में मनाए जाने वाली महाराणा प्रताप की जयंती को राष्ट्रीय स्वाभिमान दिवस के रूप में केंद्र सरकार घोषित करें इसके लिए कुंवर वाहिनी पूरे देश में अभियान छेड़ चुकी है। और यह अभियान तब तक जारी रहेगा जब तक केंद्र सरकार महाराणा प्रताप की जयंती को राष्ट्रीय स्वाभिमान दिवस घोषित नहीं करती है। इसके लिए कुंवर वाहिनी पूरे देश में अभियान के तौर पर इमेल, व्हाट्सएप और पत्रों के माध्यम से केंद्र सरकार के मुखिया एवं देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, गृहमंत्री राजनाथ सिंह, भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह और आरएसएस के संघ संचालक मोहन भागवत को अवगत करा रही है। इस बात की जानकारी रविवार को प्रेसवार्ता कर कुंवर वाहिनी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जितेंद्र स्वामी ने दिया। उन्होंने बताया कि पूर्व से निर्धारित 9 मई को पटना के श्रीकृष्ण मेमोरियल हॉल में महाराणा प्रताप जयंती राष्ट्रीय स्वाभिमान दिवस उत्सव के रूप में मना रही थी। जिसमें मुख्य अतिथि गृहमंत्री राजनाथ सिंह शामिल होने वाले थे। लेकिन कर्नाटक चुनाव में व्यस्त होने के कारण गृहमंत्री का कार्यक्रम स्थगित हो गया जिसके कारण कुंवर वाहिनी ने इस कार्यक्रम को स्थगित कर दिया। और गृहमंत्री के बतौर मुख्य अतिथि के रुप में आने को लेकर अगली तिथि का इंतजार कर रही है। इस कार्यक्रम में भारत सरकार के कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद सिन्हा, राज्यसभा सांसद आरके सिन्हा, महाराणा प्रताप के प्रपौत्र राजकुमार, लक्ष्यराज सिंह, मेवाड़ तथा कैलिफोर्निया विश्वविद्यालय के प्रो डॉ शिवशंकर नेपाल की राजकुमारी हिमानी तथा देश-विदेश से कई गणमान्य को आना था। लेकिन गृहमंत्री के व्यस्त होने के कारण कार्यक्रम को स्थगित कर देने के कारण यह सभी आगंतुक भी अगली तिथि पर शामिल होंगे। क्योंकि कार्यक्रम का स्वरूप राष्ट्रीय स्तर का था और गृहमंत्री का कार्यक्रम तय होते ही कुंवर वाहिनी पूरे उत्साह के साथ राष्ट्रीय स्वाभिमान को उत्सव के रूप में मनाएगी। जिसका संदेश देश-विदेश तक जा सके। जिससे लोग जान सके कि भारत के लोग भूखे रह सकते हैं, घास की रोटी खा सकते हैं लेकिन अपने और मातृभूमि के स्वाभिमान से कभी समझौता नहीं कर सकते है। महाराणा प्रताप ने मुगलों के द्वारा दिया गया प्रस्ताव कि आप आधे भारत का महाराजा बनना स्वीकार करें और हम से समझौता कर लें लेकिन महाराणा प्रताप ने इस प्रस्ताव को जूते से ठोकर मार दी और अपने मिट्टी और प्रजा के लिए मुगलों से समझौता नहीं किया। इसको लेकर 9 मई को राष्ट्रीय स्वाभिमान दिवस घोषित करने को लेकर कुंवर वाहिनी ने अभियान छेड़ दिया है। अगर राष्ट्रीय स्वाभिमान दिवस घोषित होता है तो पूरे राष्ट्र का स्वाभिमान जगेगा। इस मौके पर भाजपा के अल्पसंख्यक मोर्चा के प्रदेश उपाध्यक्ष शिवकुमार मांझी, गिरीश कुमार सिंह, अमन राज, बिट्टू सिंह, सुरेंद्र सिंह, रंजीत भारती, रामकृष्ण सिंह समेत अन्य मौजूद थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *