police
Siwan News ताज़ा ख़बरें

वेस्‍टर्न यूनियन संचालक से लूट कांड का उद्भेदन ​, एक को भेजा जेल

परवेज़ अख्तर/सिवान :- जिले के मुफ्फसिल थाना क्षेत्र के बांसोपाली कोठी पुल समीप वेस्टर्न यूनियन संचालक को गोली मारकर पांच लाख रुपये की लूट किए जाने के मामले का उद्भेदन पुलिस ने गुरुवार की शाम कर दिया। इस मामले में घटना को अंजाम देने वाले दो अपराधियों को पुलिस ने जेल भेज दिया है। जेल जाने वाले में मुफ्फसिल थाना क्षेत्र के बिंदुसार हामिद गांव के संयोग सिंह का पुत्र विकास कुमार और वैशाखी गांव का हजरत अली शामिल है। हालांकि हजरत को पुलिस ने नगर थाना में 2014 में बबन पान भंडार के समीप राहगीर से लूट करने के आरोप में जेल भेजा है। हजरत के इस कांड में शामिल होने की जानकारी विकास से पूछताछ के क्रम में लगी। पुलिस इस मामले में हजरत को रिमांड पर लेगी।पुलिस ने विकास के पास से घटना में प्रयुक्त पिस्टल, चोरी की एक अपाची बाइक को बरामद किया है। मामले में एसपी नवीन चन्द्र झा ने बताया कि कांड में लूटे गए रुपयों की बरामदगी नहीं हो सकी है। क्योंकि इनके साथ घटना में शामिल एक अन्य अपराधी रुपये लेकर फरार हो गया है। जिसकी गिरफ्तारी के लिए छापेमारी की जा रही है। विकास से पूछताछ में उसने अपनी संलिप्तता स्वीकार की है। उसके घर से ही चोरी की एक बाइक भी बरामद हुई है। जिससे घटना को अंजाम दिया गया था। इस कांड में वैशाखी हाता निवासी हजरत को नगर थाना कांड संख्या 364/14 में जेल भेजा गया है। विकास ने बताया कि लूटकांड में हजरत भी शामिल था। इसलिए अब हजरत को रिमांड पर लेकर जल्द ही उससे पूछताछ की जाएगी। घटना में एक और अपराधी फिलहाल पकड़ से दूर है जिसकी गिरफ्तारी के लिए छापेमारी की जा रही है।

शहाबु और सिट्टू से हो रही पूछताछ

वेस्टर्न यूनियन संचालक से लूट के मामले में विकास के दो अन्य दोस्त बिंदुसार गांव के ही शहाबु और सिट्टू को पुलिस ने गुरुवार को हिरासत में लिया। जिनसे गहनता से पूछताछ चल रही है। सूचना यह है कि इन्हें घटना के बारे में जानकारी थी। हालांकि इसके बारे में अभी पुलिस कुछ खास नहीं बता रही है। गुरुवार को जिन संदिग्धों को हिरासत में लिया गया वे गांव के पश्चिम बगीचा समीप बसे एक टोला में रहते हैं। जानकारी यह भी मिली है कि तीनों पूर्व में भी कुछ आपराधिक गतिविधियों में संलिप्त रहे हैं । हिरासत में लिए गए संदिग्धों में शहाबु और सिट्टू शामिल हैं। इनसे पुलिस गहनता से पूछताछ कर रही है।

16 अप्रैल को हुई थी लूट

बता दें कि 16 अप्रैल की शाम बैंक से रुपये लेकर घर जा रहे एक वेस्टर्न यूनियन संचालक सह मिरापुर निवासी अब्दुल मन्नान अंसारी को गोली मारकर पांच लाख रुपये की लूट की घटना को अंजाम दिया था। इस घटना में सोमवार की शाम ही पुलिस ने वैशाखी गांव से दो संदिग्धों को हिरासत में लिया था । उनसे मिले सुराग के आधार पर बिंदुसार गांव में छापेमारी की गई जिसके बाद वहां से मंगलवार और गुरुवार को तीन संदिग्धों को हिरासत में लेकर पूछताछ के बाद विकास को जेल भेज दिया गया।